अन्नपूर्णा योजना

Submitted by sameer on शनि, 04/04/2020 - 11:43
Annapurna-yojana-logo

मध्य प्रदेश में उत्तम गुणवत्ता के बीजों को उपलब्ध कराने के लिए मध्यप्रदेश में सीड रोलिंग प्लान बनाया गया है। विभाग द्वारा सभी फसलों की बीज प्रतिस्थापन दर बढ़ने के लिए निरंतर प्रयास किये जा रहे है, जिसके कारन प्रमाणित बीजों की मांग प्रतिवर्ष बढ़ती जा रही है। नवीन क़िस्मों के विकास पर भी ध्यान दिया जा रहा है। प्रमाणित बीज के उत्पादन और वितरण में प्रदेश का स्थान देश में सर्वोच्च क्रम पर है।

मध्य प्रदेश के आर्थिक रूप से पिछड़े अनुसूचित जाति एवं जन जाति के किसान अपने अलप उत्पादक बीजों के स्थान पर नै किस्मों के उन्नत बीज क्रय कर सकें इसके लिए राज्य शासन द्वारा अन्नपूर्णा योजना शुरू की है। अन्नपूर्णा योजना में अनाज के उन्नत बीज किसानों को दिए जाते हैं।

पात्रता (किसानों के लिए )

अनुसूचित जाति के किसान और अनुसूचित जनजाति के लघु एवं सीमान्त किसान जो विपुल उत्पादन देने वाली खाद्यान्न फसलों की उन्नत क़िस्मों के बीज क्रय करने में असमर्थ हैं , ऐसे किसानों को उन्नत बीज उपलब्ध कराये जाते हैं , जिससे उत्पादकता और उत्पादन बढाकर उनकी आर्थिक स्थिति में सुधर लाया जा सके।

लाभ

  1. बीज अदला बदली - किसान द्वारा दिए गए अलाभकारी फसलों के बीज के बदले 1 हेक्टेयर की सीमा तक खाद्यान्न फसलों के उन्नत और संकर बीज प्रदाय किये जाते हैं।
  2. प्रदाय किये गए बीजों पर 75 प्रतिशत अनुदान , अधिकतम 1500 रूपये की पात्रता होती है। अगर किसान के पास बीज न हों तो प्रदाय बीज की 25 प्रतिशत नगद राशि किसान को देनी होती है।

योजना कार्य क्षेत्र

मध्य प्रदेश के सभी ज़िलों में लागू

बीज स्वावलम्बन

किसानों की धारित कृषि भूमि के 1/10 क्षेत्र के लिए आधार / प्रमाणित बीज , 75 प्रतिशत अनुदान पर प्रदाय दिया जाता है।

बीज उत्पादन

शासकीय कृषि प्रक्षेत्रों की 10 किलोमीटर की परिधि में अनुसूचित जाति / अनुसूचित जाति के लघु और सीमान्त किसानों के खेतों पर कम से कम आधा एकड़ क्षेत्र में बीज उत्पादन कार्यक्रम लिए जाते हैं। किसानों को आधार / प्रमाणित -1 श्रेणी का बीज 75 प्रतिशत अनुदान पर प्रदाय किया जाता है। अधिकतम 1 हेक्टेयर तक अनुदान की पात्रता होती है। रजिस्ट्रेशन के लिए प्रमाणितकरण संस्था को देय राशि का भुगतान योजना मद से किया जाता है। उत्पादित प्रमाणित बीज, आगामी वर्ष में अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के किसानों को निर्धारित कीमत पर वितरण किया जाता है।

आवेदन कैसे करें ?

जो भी किसान इस योजना के लाभों को प्राप्त करना चाहता हो वह पास के ग्रामीण कृषि उत्पाद अधिकारी को संपर्क कर सकता है।

संपर्क

No. Name of the Officer Office Contact no. Mobile No.
1 Dr. M Kali Durai, Commissioner Horticulture. 0755-2578491 ---
2 Shri Rajendra Kumar, Dy. Director Horticulture. 0755-2760200 9407404052
3 Shri Ashwini Singh Parihar, Dy. Director Horticulture  0755-2767413 9584248387
4 Dr. Vijay Agrawal, Dy. Director Horticulture.  0755-2570123 9425021760
5 Dr. Pooja Singh, Dy. Director Horticulture. 0755-2570206 9755166112
6 Shri R.B. Rajodiya,  Dy. Director Horticulture.  --- 09425973234
7 Shri Kishan Singh Yadav, Asst. Director Horticulture. 0755-2570123 9425376791
8 Smt. Indrani Bokade, Asst. Director Horticulture.  0755-2570123 9424095756
9 Smt. Jaymala Singh, Asst. Director Horticulture.  0755-2570206 8770248371
10 Ms. Shanu Meshram, Asst. Director Horticulture. 0755-2570123 8966970898
11 Smt. Khemlata Pandole, Asst. Director Horticulture. 0755-2570206 9926370321

 

क्र. अधिकारी का नाम संभाग / जिला  कार्यालय का दूरभाष  मोबाइल नंबर
1 श्री आर.के. नामदेव,संयु.संचा.(प्रभारी ) भोपाल संभाग  0755-2770889 9424418066
2 श्री आर.के.रावत,प्रभारी सहा.सं.उ. प्रमुख उद्यान भोपाल 0755-2553655 9425686774
3 श्री पी.के. निगम, सहा.संचा. उद्यान  भोपल 0755-2770889 9424333051
4 श्री बुद्ध सिंह कुशवाह, सहा.संचा. उद्यान भोपाल 0755-2540769 8770040911
5 श्रीमति रीता उईके,सहा.संचा. उद्यान  रायसेन 07482-222053 9589452463
6 श्री परशुराम पांडे, उप संचा.(प्रभारी) राजगढ़  07372-25567 9893634688
7 श्री राजकुमार सगर, सहा.संचा.उ.(प्रभारी) सीहोर 07362-224062 9425129407
8 श्री के.एल.व्यास,सहा.संचा.उ.(प्रभारी) विदिशा 07592-232879 9425069024
9 श्रीमति निकिता जैन, सहा.संचा. कुठार भोपाल 07592-232879 7693055131
Economic Background
Person Type
Scheme Type
Scheme Name
Center
Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

नई टिप्पणी जोड़ें

प्रतिबंधित एचटीएमएल

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang> <em> <strong> <cite> <blockquote cite> <code> <ul type> <ol start type> <li> <dl> <dt> <dd> <h2 id> <h3 id> <h4 id> <h5 id> <h6 id>
  • लाइन और पैराग्राफ स्वतः भंजन
  • Web page addresses and email addresses turn into links automatically.