मुख्य मंत्री निराश्रित/बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना

Submitted by sameer on गुरु, 04/30/2020 - 18:48
मुख्य मंत्री निराश्रित/बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना - logo

मुख्य मंत्री निराश्रित/बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई योजना है जिसके अंतर्गत निराश्रित/ बेसहारा गोवंश के पूर्ण रूप से भरण पोषण किया जाता है। यह योजना बेसहारा गोवंश संवर्धन में सामाजिक सहभागिता बढ़ाये जाने की योजना है।

मुख्य विशेषताएं

  • जिलाधिकारी जनपद के ऐसे इच्छुक किसान/पशुपालक/अन्य व्यक्तियों को चिन्हित कराएँगे जो निराश्रित गोवंश को पलने के लिए तैयार हैं।
  • ऐसे इच्छुक व्यक्तियों को जिलाधिकारी द्वारा 30 रूपये प्रति गोवंश / प्रति दिन जी दर से भरण-पोषण के लिए धनराशि सम्बंधित व्यक्ति पशु पालक के बैंक कहते में प्रति माह डी.बी.टी प्रक्रिया द्वारा प्रदान की जाएगी।
  • निराश्रित/ बेसहारा गोवंश (जिसके कान में छल्ला अनिवार्य होगा ) को इच्छुक किसानों / पशुपालकों का जिला प्रशासन द्वारा स्थापित एवं संचालित अस्थाई/स्थाई गोवंश संरक्षण केंद्रों के माध्यम से सुपुर्द किया जायेगा।
  • चिन्हित किसान/ पशुपालक सुपुर्द किये गए गोवंश को किसी भी दशा में विक्रय करेगा और न ही छुट्टा छोड़ेगा।

किसान/पशुपालक / अन्य व्यक्ति के चयन के लिए पात्रता

  1. सम्बंधित वीएस खंड का मूल निवासी हो और वर्तमान में निवास कर रहा हो।
  2. पालन पोषण का अनुभव हो तथा उसके पास पशु रखने का पर्याप्त स्थान हो।
  3. इच्छुक व्यक्ति को ज़्यादा से ज़्यादा 4 गोवंश ही दिया जाना है जिसमे नाववत्सों की गणना नहीं किया जाना है अर्थात मादा गोवंश एवं दूध पीती बछिया को एक मन जायेगा।
  4. इच्छुक व्यक्ति के नाम से आवेदन की तिथि को किसी राष्ट्रीय बैंक में आधार लिंक क्रिया शील बचत खता हो।
  5. दुग्ध समितियों से जुड़े व्यक्तियों को प्राथमिकता दी जायेगी।
  6. प्रशिक्षित पैरावेट / पशुमित्र को प्राथमिकता दी जाएगी।
  7. इच्छुक व्यक्ति चयन के लिए निर्धारित प्रारूप पर अपने पहचान पत्र (आधार कार्ड / वोटर कार्ड / राशन कार्ड ) तथा बैंक पासबुक की पूर्ण पठनीय छाया के साथ आवेदन करेगा।
  8. इच्छुक व्यक्ति अपने ब्लॉक के खंड विकास अधिकारी / पशु चिकित्साधिकारी से संपर्क करे।

ज़रूरी दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • वोटर कार्ड
  • राशन कार्ड
  • बैंक अकाउंट विवरण
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र

 

Person Type
Scheme Name
State
Uttar Pradesh (UP)

नई टिप्पणी जोड़ें

प्रतिबंधित एचटीएमएल

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang> <em> <strong> <cite> <blockquote cite> <code> <ul type> <ol start type> <li> <dl> <dt> <dd> <h2 id> <h3 id> <h4 id> <h5 id> <h6 id>
  • लाइन और पैराग्राफ स्वतः भंजन
  • Web page addresses and email addresses turn into links automatically.